Vocational training

 

बंदियो के कौशल विकास हेतु प्रशिक्षण

बंदियो को ’’कौशल विकास योजना’’ के अंतर्गत विभिन्न ट्रेंड में प्रशिक्षण प्राप्त हो एवं उसका उन्हे प्रमाण पत्र भी मानक संस्था से मिले, इस उद्देश्य से एम.ई.एस. माॅडूल के तहत प्रशिक्षण प्रदाय करने हेतु केन्द्रीय जेल भोपाल, उज्जैन, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, सागर एवं सतना को व्ही.टी.पी. (वोकेशन ट्रेनिग प्रोवाइडर) के रुप में पंजीकृत कराकर बंदियो को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कौशल विकास प्रशिक्षण के अंर्तगत बंदियो को टेलरिंग, कारपेन्ट्री, बुनाई (हेन्डलूम एवं पावरलूम), कुक, प्रिटिंग, खिलौने (गुडिया), स्टील बर्तन निर्माण, ट्रेक्टर मैकेनिक, वायरमेन ट्रेड में प्रशिक्षण प्रदाय किया जा रहा है।